महाभारत युद्ध के लिए कुरुक्षेत्र का चुनाव एक बहुत बड़ा राज था!

Nanhe Sipahi | Feb 28, 2018 02:02 PM


News Image

महाभारत युद्ध और गीता की रचना कुरुक्षेत्र में युद्ध भूमि में हुई.

लेकिन आखिर ऐसा क्या हुआ, जो युद्ध के लिए इस जगह का चुनाव किया गया और सारे वीर, ऋषि, गुरु सबने युद्ध में प्राण त्याग दिए .


तो आइये जानते है कुरुक्षेत्र का राज़ –   

  • कुरु एक बहुत तेजस्वी और प्रतापी राजा था. इस राजा के आधीन में आने वाले क्षेत्र को कुरुक्षेत्र कहा जाता है.
  • कुरुक्षेत्र के इस भाग को राजा कुरु अपने हाथो से जोतते और अन्न उगाते थे.
  • राजा कुरु  इस जगह को एक मोक्ष प्राप्ति की जगह बनना चाहते थे.
  • राजा कुरु पर इंद्र की कृपा हो गई और इंद्र के वरदान से यह जगह मोक्षप्राप्ति की जगह बन गई.
  • राजा कुरु का विवाह शुभांगी से हुआ. इनकी संतान विदुरथ हुई और इनकी पीढ़ी आगे बढ़ी – जिसमे  धृतराष्ट्र और पांडू हुए – धृतराष्ट्र की संतान कौरव और पांडू की संतान पांडव हुए.
  • यह सब एक वंश की बेला थी. कौरवो और पांडवो दोनों पाप कर्म में डूबे हुए थे.
  • श्री कृष्ण और भीष्म पितामह को इस कुरुक्षेत्र को मिले वरदान का ज्ञान था.
  • इस जगह में मरने वाले हर जीव, जन्तु, पशु, पक्षी, और इन्सांनो को मोक्ष मिलना ही था.
  • इसलिए कुरु के कुल और सारे वीर योद्धा, ऋषियों, गुरुओं को मोक्ष दिलाने के लिए ही कुरुक्षेत्र का चुनाव किया गया.
  • इस पाप से मुक्ति दिलाने के लिए ही महाभारत युद्ध हुआ और इसके लिए इस जगह का चयन कर अपने कुल को मुक्ति दिलाई.
  • इस जगह में जितने लोगो की मौत हुई वह अधर्मी होते हुए भी, पाप मुक्त होकर, मोक्ष को प्राप्त कर, इतिहास की रचना कर गए.

कुरुक्षेत्र एक वरदान प्राप्त भूमि थी, जहाँ किसी भी जीव जन्तु इंसान की मृत्यु हुई तो उनको मोक्ष की प्राप्ति होनी ही थी. इसलिए इस जगह का चुनाव महाभारत युद्ध के लिए किया गया था.



News Image

भगवान शिव की कहानी

दैत्यों का स्वभाव तो सदैब से शक्तिसम्पन्न होते ही देवतावों और मनुष्यो को पीड़ित करना रहा है |ब्रह्मा जी ...


News Image

जानिए भगवान शिव क्यों कहलाए त्रिपुरारी

कार्तिक मास की पूर्णिमा को त्रिपुरारी पूर्णिमा भी कहते हैं। धर्म ग्रंथों के अनुसार, इसी दिन भगवान शिव ने तारकाक्ष, ...


News Image

सफलता के लिए नरक चौदस पर जरूर करें ये उपाय

दिवाली का त्‍यौहार रोशनी का त्‍यौहार होता है। इस मौके पर घर की साफ-सफाई की जाती है। कहते हैं समृद्धि ...


News Image

महाभारत की लड़ाई में जब श्रीकृष्ण को 18 दिनों तक खानी पड़ी थी मूंगफली

महाभारत की लड़ाई में – आपने महाभारत से जुड़ी अनेक कहानियां सुनी होगीं. भगवान श्रीकृष्ण की कई लीलाओं के बारे ...


News Image

महाभारत में अर्जुन ही नहीं, इन 3 योद्धाओं ने भी देखा था श्रीकृष्ण का विराट अवतार

महाभारत का रण अपने आप में अद्भुत है. अनेको कवियों और लेखकों ने उस रण को अपने शब्दों में तराशने ...