नहीं लगेगा दोष ,तुलसी पत्ते तोड़ने से पहले यह जरूर बोलें

Nanhe Sipahi | May 24, 2017 01:05 PM


News Image
हम सब जानते हैं तुलसी कितनी गुणकारी है , हमारे पौराणिक ग्रंथो में तुलसी के गुण और महत्व विस्तार से बताये गए हैं | आम तौर पर सभी घरों में तुलसी मिल ही जाती हैं , इसका कारण ये हैं कि तुलसी का प्रतिदिन दर्शन करने से सारे पाप स्वतः नष्ट हो जाते हैं , वस्तुतः तुलसी को पापनाशक माना गया है , साथ ही साथ तुलसी पूजन करना मोक्षदायक भी माना गया है | हिन्दू धर्म में सभी पूजा विधानों खास कर के विशु और विष्णु रूपों कि पूजा में तुलसीदल विशेष स्थान रखती है| कई जगह तो भगवन का भोग बिना तुलसी के पूरा नही होता |

तुलसी दाल को उपयोग अपने पूजन में अवस्य करे क्यों कि ऐसा करने से व्रत , यज्ञ , जप , होम , हवन करने का पुण्य प्राप्त होता है | लेकिन क्या आपको पता है कि तुलसी पत्र तोड़ने से आपको दोष लगता है , इसका कारण ये हैं कि तुलसी को बहुत पवित्र माना गया है | आइये हम आपको बताते हैं कि तुलसी के पत्ते को तोड़ने से पहले कौन सा मंत्र मन में बोले





- ॐ सुभद्राय नमः
 
- ॐ सुप्रभाय नमः
 
- मातस्तुलसि गोविन्द हृदयानन्द कारिणी 
नारायणस्य पूजार्थं चिनोमि त्वां नमोस्तुते ।।


इन मंत्रो के जब से आपके दोष मिट जाते हैं | अतः अब जब भी तुलसी पत्र तोड़ रहे हो इन मंत्रो का जप अवस्य करें |


News Image

महाभारत युद्ध के लिए कुरुक्षेत्र का चुनाव एक बहुत बड़ा राज था!

महाभारत युद्ध और गीता की रचना कुरुक्षेत्र में युद्ध भूमि में हुई. लेकिन आखिर ऐसा क्या हुआ, जो युद्ध ...


News Image

भगवान शिव की कहानी

दैत्यों का स्वभाव तो सदैब से शक्तिसम्पन्न होते ही देवतावों और मनुष्यो को पीड़ित करना रहा है |ब्रह्मा जी ...


News Image

जानिए भगवान शिव क्यों कहलाए त्रिपुरारी

कार्तिक मास की पूर्णिमा को त्रिपुरारी पूर्णिमा भी कहते हैं। धर्म ग्रंथों के अनुसार, इसी दिन भगवान शिव ने तारकाक्ष, ...


News Image

सफलता के लिए नरक चौदस पर जरूर करें ये उपाय

दिवाली का त्‍यौहार रोशनी का त्‍यौहार होता है। इस मौके पर घर की साफ-सफाई की जाती है। कहते हैं समृद्धि ...


News Image

महाभारत की लड़ाई में जब श्रीकृष्ण को 18 दिनों तक खानी पड़ी थी मूंगफली

महाभारत की लड़ाई में – आपने महाभारत से जुड़ी अनेक कहानियां सुनी होगीं. भगवान श्रीकृष्ण की कई लीलाओं के बारे ...


News Image

महाभारत में अर्जुन ही नहीं, इन 3 योद्धाओं ने भी देखा था श्रीकृष्ण का विराट अवतार

महाभारत का रण अपने आप में अद्भुत है. अनेको कवियों और लेखकों ने उस रण को अपने शब्दों में तराशने ...