सावन में क्यों पहनते हैं हरी हरी चूड़ियां

Nanhe Sipahi | Jul 13, 2017 05:07 PM


News Image
सावन का महीना हो और शिव जी की बात न हो ऐसा हो नहीं सकता . सावन के महीने में बैल पत्र और शिवलिंग की पूजा की विशेष प्रथा है. एक प्रथा और भी है वो है महिलाओ का हरे रंग की चुडिया पहनना. आज हम आपको बताएंगे की सावन के महीने में स्त्रियां हरे रंग की चुडिया क्यों पहनती हैं.

हिन्दू शास्त्रों के अनुसार हरा रंग सौभाग्य का प्रतिक माना जाता है . सावन भगवन शिव का प्रिय मास है . इस खास महीने में शिव जी की पूजा करके भक्त उनको प्रसन्ना करने की कोशिश करते हैं . शास्त्रों में प्रकृति को माता गौरी का रूप माना गया है . इसलिए उनकी भी पूजा की जाती है. ऐसे मान्यता है की इस पूरे महीने हरा पहनने वालो पर प्रकृति की विशेष कृपा होती है. महिलाये हरा रंग पहनकर खुद को प्रकृति से जोड़ती हैं . जिससे उन्हें अपने सुहाग की सलामती का आशीर्वाद मिलता हैं .

सही मायनो में हरा रंग बुद्ध ग्रह का प्रतिक माना जाता हैं . बुद्ध ग्रह को सम्पन्नता का ग्रह माना गया ऐसे में हरा रंग पहनने से बुद्ध प्रसन्न होते हैं और सुहागिनों के घर में सम्पन्नता और धन्य -धान्य बढ़ते हैं.

हरा रंग पहनने प्रसन्‍न होते हैं महादेव

सावन में हरा रंग पहनने से श‍िव खासतौर से खुश होते हैं। भगवान शंकर का प्रकृति से विशेष जुड़ाव है और ऐसे में भक्त जब खुद को प्रकृति के अनुरूप ढाल लेता है तो श‍िव विशेष तौर से खुश हो जाते हैं और मनोकामनाओं की पूर्ति करते हैं। सावन में हरे रंग चूड़‍ियां पहनने वाली महिलाओं पर विष्णु जी भी प्रसन्न होते हैं। हरा-हरा रंग प्रकृति, उर्वरता, बहुलता, सौभाग्य और सकारात्मक ऊर्जा की वृद्धि का प्रतीक है। हरा, उपचार का भी रंग है और ये हार्ट के साथ ही हाई ब्लड प्रेशर की समस्याओं के लिए भी अच्छा माना जाता है। जिन शादीशुदा दंपति के जीवन में अनबन चल रही हो वो अपने बेडरुम के दक्षिण पूर्व हिस्से को हरे रंग से पेंट करें तो इसका लाभ मिल सकता है।


News Image

महाभारत युद्ध के लिए कुरुक्षेत्र का चुनाव एक बहुत बड़ा राज था!

महाभारत युद्ध और गीता की रचना कुरुक्षेत्र में युद्ध भूमि में हुई. लेकिन आखिर ऐसा क्या हुआ, जो युद्ध ...


News Image

भगवान शिव की कहानी

दैत्यों का स्वभाव तो सदैब से शक्तिसम्पन्न होते ही देवतावों और मनुष्यो को पीड़ित करना रहा है |ब्रह्मा जी ...


News Image

जानिए भगवान शिव क्यों कहलाए त्रिपुरारी

कार्तिक मास की पूर्णिमा को त्रिपुरारी पूर्णिमा भी कहते हैं। धर्म ग्रंथों के अनुसार, इसी दिन भगवान शिव ने तारकाक्ष, ...


News Image

सफलता के लिए नरक चौदस पर जरूर करें ये उपाय

दिवाली का त्‍यौहार रोशनी का त्‍यौहार होता है। इस मौके पर घर की साफ-सफाई की जाती है। कहते हैं समृद्धि ...


News Image

महाभारत की लड़ाई में जब श्रीकृष्ण को 18 दिनों तक खानी पड़ी थी मूंगफली

महाभारत की लड़ाई में – आपने महाभारत से जुड़ी अनेक कहानियां सुनी होगीं. भगवान श्रीकृष्ण की कई लीलाओं के बारे ...


News Image

महाभारत में अर्जुन ही नहीं, इन 3 योद्धाओं ने भी देखा था श्रीकृष्ण का विराट अवतार

महाभारत का रण अपने आप में अद्भुत है. अनेको कवियों और लेखकों ने उस रण को अपने शब्दों में तराशने ...